gandhi

निदेशक की कलम से

             दिशाकल्पः मेरा पृष्ठ 

                                                               स्वच्छता और  शिक्षा      

    शिविरा नवम्बर माह का अंक ऐसे समय आपके हाथ में है जब विद्यालयों में मध्यावधि अवकाश चल रहा है और आप दीपावली मना रहे हैं। पावन प्रकाश पर्व दीपावली की आप सभी को बहुत बहुत बधाई ! हार्दिक शुभकामनाएँ !! 

    प्रकाश का यह पर्व संदेश देता है , कि ’दीपक’ की तरह प्रत्येक व्यक्ति को अन्धेरे को मिटाने में अपना सहयोग करना चाहिए। उत्सव और पर्व भारतीय जनमानस के आन्तरिक उल्लास और सांस्कृतिक वैशिष्ट्य के प्रतीक रहे हैं। दीपावली पर्व से पूर्व स्वतःस्फूर्त चलने वाला स्वच्छता अभियान सही मायने में सामाजिक स्वच्छता अभियान का विराट रूप है जो घर, मौहल्ले, नगर, राज्य और राष्ट्र को स्वच्छता को जीवन में अपनाने का संदेश देता है। 

    पिछले दिनों माध्यमिक षिक्षा निदेषालय परिसर में मेरे सहित निदेषालय के अधिकारियों, कर्मचारियों, स्वयंसेवी संस्थाओं के पदाधिकारियों, विद्यार्थियों और शिक्षकों ने नल-नील की तरह लगकर देखते ही देखते पूरे परिसर को पूर्ण स्वच्छ कर दिया। आप सभी भी अपने विद्यालय, कार्यालय और आस-पास के परिसर में अपनी सुविधानुसार ऐसे स्वच्छता अभियान चला सकते हैं, स्वच्छता एक कार्यक्रम नहीं हमारी आदत बन जाना चाहिए। स्वच्छता, स्वास्थ्य और षिक्षा हमारे जीवन की दिषा निर्धारित करते हैं।

    राज्य के स्कूल षिक्षा विभाग के ब्लाॅक, ज़िला एवं संभाग स्तरीय कार्यालयों को पुनर्गठित कर एकीकृत शिक्षा संकुलों की स्थापना की गई है। उत्कृष्ट शिक्षा व्यवस्था और गुणवत्ता सुनिष्चित करने के उद्देष्य से राजकीय विद्यालयों में इस पुनर्गठन से शिक्षा के उन्नयन, पर्यवेक्षण और प्रबन्धन की प्रभावी भूमिका सुनिष्चित हो रही है। विद्यालयों और कार्यालयों मंे ब्लाॅक स्तर से राज्यस्तर तक कार्य गुणात्मक दृष्टि से श्रेष्ठ और दु्रतगति से सम्पादित हो रहे हैं। 

    प्रार्थना सभा में अखबार पढ़ने, विद्यालय में चार्ट लगाने जैसी छोटी-छोटी गतिविधियों से विद्यालय में सकारात्मक शैक्षणिक माहौल बनाए। दिसम्बर माह में विद्यार्थियों की अर्द्धवार्षिक परीक्षाएँ हैं। सभी विद्यार्थी मध्यावधि अवकाष का समुचित उपयोग करते हुए अपने अध्ययन कार्य को गति प्रदान करें। षिक्षक पाठ्यक्रम की पूर्णता के साथ, विद्यार्थियों द्वारा प्रश्न पत्रों के कुशलतापूर्वक हल करने की दृष्टि से विषेश कक्षाएँ आयोजित करें। विद्यार्थियों में शीघ्रता और कुशलता से अपना सर्वश्रेष्ठ प्रकट करने की क्षमता का विकास हो। साथ ही बोर्ड परीक्षाओं के मध्यनजर अभी से विषेश तैयारी करें। कमजोर विद्यार्थियों की विषेश कक्षाएं लगाकर उनकी सहायता की जाए।

    लोकतंत्र का बड़ा उत्सव विधानसभा चुनाव है। राज्य में 07 दिसम्बर 2018 को मतदान कार्य सम्पन्न होना है। हमारे शिक्षक और कर्मचारी अपना उत्तरदायित्त्व पूर्ण मनोयोग से निभाकर सफल संचालन में अपनी भूमिका निभाएंगे है। राज्य में प्रत्येक मतदाता निर्भय होकर मतदान करे, इस हेतु हमारे शिक्षक और माध्यमिक/उच्च माध्यमिक कक्षा के विद्यार्थी भी मतदाता जागरूकता अभियान से जुड़कर स्वतंत्र और निष्पक्ष मतदान में प्रेरक कार्य कर सकते हैं।

    सभी के उज्ज्वल भविष्य की मंगलकामनाओं के साथ...       

                        शुभकामनाओं सहित...

                                                                                                                           नथमल डिडेल
I.A.S.
                                      निदेशक, माध्यमिक शिक्षा 
                                 राजस्थान, बीकानेर

Shivira Panchang

Home

राजस्थान की प्रारम्भिक शिक्षा एवं माध्यमिक शिक्षा के समस्त राजकीय, मान्यता प्राप्त गैर सरकारी/CBSE/CISCE से सम्बद्ध विद्यालयों/अनाथ बच्चों हेतु संचालित आवासीय विद्यालयों/विशेष प्रशिक्षण शिविरों एवं शिक्षक प्रशिक्षण विद्यालयों के लिए सत्र 2018-2019 का यह शिविरा पंचांग प्रस्तुत है। इसके अनुसार ही सत्रपर्यन्त विद्यालयी कार्यक्रम, अवकाश, परीक्षा, खेलकूद प्रतियोगिता आदि का आयोजन अनिवार्य है। 

Related Links